'तो आपको वापिस आकर कैसा लगा? भारत ज्यादा अच्छा है या अफगानिस्तान?' 'सभी जगह अच्छा है. अब ये अपना वतन है तो जुड़ाव तो होता... [...]

[...]

[...]

[...]

आज सुबह उठते ही भतीजी को अपने सिरहाने के पास बैठा हुआ पाया। उसे देखकर लगा कि आज फिर सुबह-सुबह उसका होमवर्क निपटाने में उसकी मदद करनी प... [...]

unforgettable day of my life बचपन में सुना था कि जिस दिन दिल बहुत खुश होते हैं, उस दिन वो अनजाने में परेशानी की नयी इबारत लिख रहा होत... [...]

भाई... लफ्ज़ जिसने बदली मेरी दुनिया शख्स जिसने सजाई मेरी खुशियां पोछ कर आंसूं मेरे, अँधेरी रातों में वो है रोया क्या याद है तुझ... [...]

प्यारे भाई, मैं, अरे वही तुम्हारी बहन और कौन. याद है कितना प्यारा बचपन था हमारा. तब तुझे ये पता न था कि तू बेटा है और मैं एक बेटी,... [...]

मोबाइल है लेकिन उसे चार्ज करने के लिए बिजली आने का इंतजार करना पड़ता है। फेसबुक , ट्विटर जैसे तमाम सोशल नेटवर्किंग साइट्स के बारे में जा... [...]

तेरे करीब रहूं या दूर जाऊं मैं, है दिल का एक ही आलम तुझी को चाहूं मैं मैं जानती हूं कि वो रखता है चाहते कितनी, मगर ये बात कैसे त... [...]

प्यारे दोस्त, कहते हैं इस आभासी दुनिया में कोई किसी का अपना नहीं होता, कोई किसी का साथ नहीं देता लेकिन तुम्हारा और मेरा रिश्ता उन सभ... [...]

अपनी नियति पर दुखी भैंसे भैया कल सुना कि अभी कुछ दिन पहले बड़के मंत्री की भैंस खो गयी. बेचारे बहुत दुखी थे, वो क्या पूरा देश  दुःख मना... [...]

अल्हड सा वो एक लडका, जो छुपकर देखा करता था.. शर्मीली सी वो एक लडकी, ख़्वाबों में खोई रहती थी... कुछ सपने संजोए आँखों में, हम घर से ... [...]

खामोश ही सही, रहो आस-पास बनकर ! बिखर जाओ भले, रह जाओ अहसास बनकर! दूर जाने से किसे कौन रोके, ठहर जाओ बस कुछ याद बनकर ! रिश्तो... [...]

लो भैया नया साल भी बीत गया. क्या पूछ आपने, कैसे? अरे भाई पिछली 31 दिसम्बर को पुराने साल को बाय-बाय बोला और कल 31 जनवरी को नए साल... [...]